Posts

Showing posts from March 25, 2020

असित कुमार हलदार आर्टिस्ट की biography

Image
 असित कुमार हाल्दार आर्टिस्ट की बायोग्राफी असित कुमार हाल्दार एक कल्पना शील, भावप्रवण चित्रकार के साथ साथ अच्छे साहित्यकार ,शिल्पकार, कला समालोचक,चिंतक,कवि,विचारक भी थे। असित कुमार हाल्दार का प्रारंभिक जीवन--- असित कुमार हलदार का जन्म सन 1890 पश्चिम बंगाल के जोड़ासांको नामक स्थल में  स्थित टैगोर भवन  के एक प्रतिष्ठित परिवार में हुआ था। इनकी नानी रवींद्र नाथ टैगोर की बहन थीं।   असित कुमार हलदार के बाबा  का नाम राखालदास हाल्दार था  जो उस समय लंदन विश्वविद्यालय में संस्कृत विषय के प्राध्यापक थे, और पिता सुकुमार हाल्दार भी कला में निपुण थे  ,उनकी प्रेरणा से असित कुमार हलदार को भी कला में अभिरुचि जगी। साथ मे वो बचपन से ही ग्रामीणों के बीच रहकर उनकी पटचित्र कला को गौर से देखा और समझा था।  15 वर्ष की आयु में हाल्दार को कलकत्ता के गवर्नमेंट स्कूल ऑफ आर्ट में दाखिला मिल गया , यहां पर इनको गुरु के रूप में  अवनींद्र नाथ टैगोर का सानिध्य मिला। उनसे उन्होंने कला की बारीकियों को सीखा,  यहां पर इन्होंने जादू पाल और बकेश्वर पाल से मूर्तिकला सीखी।    यहां आपको पर असित कुमार हाल्दार को अपने कक्षा में अन्

CCC का full form क्या है

CCC का full form है Course of computer concept    इस कोर्स को पूरा करने के बाद सर्टिफिकेट मिलता है ये पाठ्यक्रम तीन महीने का है , इस पाठ्यक्रम में बेसिक कंप्यूटर का ज्ञान दिया जाता है operating system,MS office, Internet और multi media अदि की जानकारी दी जाती है  यानि बेसिक स्तर पर कंप्यूटर साक्षरता है। इस पाठ्यक्रम की फीस लगभग 3200 से 3500 तक होती है । इस पाठ्यक्रम में सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए एक ऑनलाइन एग्जाम होता है जो कुछ चुनिंदा सेण्टर में लिए जाते हैं इसमें  100 प्रश्न आते हैं जिनको एक निश्चित समय में करना होता है ,इस परीक्षा को पास करने के लिए 50% मार्क्स लाना बहुत जरुरी है।      कोई भी सरकारी जॉब का ग्रुप c की vacancy यदि आई है तो ccc की सर्टिफिकेट जरुरी है। बिना ccc के सर्टिफिकेट के आप ग्राम पंचायत अधिकारी, लेखपाल, क्लर्क या अन्य जॉब का फॉर्म नही डाल पाओगे।