Posts

Showing posts from June 19, 2020

जीका वायरस रोग के लक्षण और बचाव

Image
 जीका वायरस रोग के लक्षण और बचाव--     एक साल पूर्व जीका वायरस का प्रकोप केरल और कुछ दक्षिणी भारत के राज्यों तक सुनने को मिल रहा था,आज 2021 में जीका वायरस के मरीज उत्तर भारत तक पैर पसार चुका है ,मध्यप्रदेश,गुजरात,राजस्थान  में कई जिलों में पैर पसार रहा है जीका वायरस  छोटे शहरों कस्बों तक भी फैल रहा है ,इस रोग के लक्षण वाले मरीज़ उत्तर प्रदेश के,इटावा ,कन्नौज,जालौन ,फतेहपुर में मिले हैं। उत्तर भारत और मध्य भारत तक इसके मरीज  बहुतायत में मिले हैं। कैसे फैलता है जीका वायरस-- जीका वायरस का संक्रमण मच्छरों के द्वारा होता है,वही मच्छर जिनसे डेंगू और चिकुनगुनिया होता है, यानी मच्छर काटने के बाद ही जीका वायरस फैलता है। थोड़ा सा अंतर भी है डेंगू वायरस और जीका वायरस में ,जीका वायरस  से यदि एक बार कोई संक्रमित हो जाता है ,और वह अपने साथी से शारीरिक संबंध बनाता है तो उसे भी संक्रमित कर सकता है,साथ मे संक्रमित माता के पेट मे पल रहे गर्भस्थ शिशु भी संक्रमित हो सकता है, साथ मे  जीका वायरस से संक्रमित व्यक्ति यदि कहीं ब्लड डोनेट करता है ,तो उस  ब्लड में भी जीका वायरस होता है। इस प्रकार ये खून जिसके श

सुशांत सिंह राजपूत एक फ़िल्म अभिनेता- बायोग्राफी

Image
  सुशांत सिंह राजपूत एक अभिनेता की जीवनी- सुशांत सिंह राजपूत एक ऐसे अभिनेता थे जो बिना किसी  गॉड फादर के  फ़िल्म इंडस्ट्री में अपना मुक़ाम हासिल किया ,जबकि फ़िल्म इंडस्ट्री में सफलता के लिए कोई न कोई गॉडफ़ादर होना चाहिए या फ़िर इस इंडस्ट्री में भाई भतीजा वाद भी बहुत चलता है यदि कोई खास रिश्तेदार है तो सफ़लता जल्द  मिल सकती है वरना बिना किसी गॉड फादर के यहां पर प्रवेश करने के लिए लंबे समय तक पापड़ बेलने पड़ते हैं, इन सब के बावजूद सुशांत का एक भी रिश्तेदार फ़िल्म इंडस्ट्री में नहीं है उन्होंने मात्र सात सालों में ख़ुद को बुलन्दियों पर पहुंचाया ,उन्होंने 13 हिट फिल्म कीं और अपने अभिनय की ऐसी छाप छोड़ी की मात्र  34 साल की उम्र में ही दर्शकों के चहेते बन गए। सुशांत सिंह का बचपन-     का जन्म 21 जनवरी 1986 को पटना(बिहार) में हुआ था,इनके पिता के के सिंह  सरकारी अधिकारी थे,  माता उषा सिंह  गृहणी थीं इनकी चार बहनें भी थीं ,एक बहन मीतू सिंह बिहार रणजी क्रिकेट टीम में खिलाड़ी थी ,सन 2002 में  सुशांत सिंह राजपूत जब 16 वर्ष के थे तब इनकी माता का देहांत हो गया , उस समय सुशांत बहुत विचलित हुए क्योंकि वो अपनी मात