Posts

Showing posts from September 25, 2019

असित कुमार हलदार आर्टिस्ट की biography

Image
 असित कुमार हाल्दार आर्टिस्ट की बायोग्राफी असित कुमार हाल्दार एक कल्पना शील, भावप्रवण चित्रकार के साथ साथ अच्छे साहित्यकार ,शिल्पकार, कला समालोचक,चिंतक,कवि,विचारक भी थे। असित कुमार हाल्दार का प्रारंभिक जीवन--- असित कुमार हलदार का जन्म सन 1890 पश्चिम बंगाल के जोड़ासांको नामक स्थल में  स्थित टैगोर भवन  के एक प्रतिष्ठित परिवार में हुआ था। इनकी नानी रवींद्र नाथ टैगोर की बहन थीं।   असित कुमार हलदार के बाबा  का नाम राखालदास हाल्दार था  जो उस समय लंदन विश्वविद्यालय में संस्कृत विषय के प्राध्यापक थे, और पिता सुकुमार हाल्दार भी कला में निपुण थे  ,उनकी प्रेरणा से असित कुमार हलदार को भी कला में अभिरुचि जगी। साथ मे वो बचपन से ही ग्रामीणों के बीच रहकर उनकी पटचित्र कला को गौर से देखा और समझा था।  15 वर्ष की आयु में हाल्दार को कलकत्ता के गवर्नमेंट स्कूल ऑफ आर्ट में दाखिला मिल गया , यहां पर इनको गुरु के रूप में  अवनींद्र नाथ टैगोर का सानिध्य मिला। उनसे उन्होंने कला की बारीकियों को सीखा,  यहां पर इन्होंने जादू पाल और बकेश्वर पाल से मूर्तिकला सीखी।    यहां आपको पर असित कुमार हाल्दार को अपने कक्षा में अन्

What is Emotional intelligence और भावनात्मक बुद्धि क्या है

Image
  भावनात्मक बुद्धि --  What is Emotional  intelligence और भावनात्मक बुद्धि  क्या है भावनात्मक बुद्धि से पहले सामान्य बुद्धि या इंटेलिजेंस की चर्चा आवश्यक है ।  सामान्य intelligence में हम दिन प्रति दिन में होने वाले कार्य में निर्णय लेने में विवेक का , तर्क का प्रयोग करतें है ,अचानक आपदा के समय स्वविवेक का प्रयोग करतें है।   IQ  किसी व्यक्ति  बौद्धिक  कौन कितना बुद्धिमान है ये उसकी IQ पर निर्भर करता है  क्षमता पर आधारित है IQ लेबल अलग अलग हर व्यक्ति का होता है , जो जीनियस है उनका IQ लेबल 140 के आसपास होता है आइंस्टीन उनमे से एक थे , IQ लेबल जिसका ज़्यादा है वो तीक्ष्ण बुद्धि का ब्यक्ति है , IQ को मापने के लिए एक फार्मूला है जब मानसिक आयु को वास्तविक आयु से भाग देकर 100 से  गुणा करतें है तब IQ का मापन होता है ,कम बुद्धि लब्ध वाले व्यक्ति डल, मोरोन कहे जाते है मनोविज्ञान की भाषा में । उच्च IQ वाला व्यक्ति वाले व्यक्ति को जीवन में हर क्षेत्र में सफलता मिलेगी, उसे सामाजिक सम्मान  भी मिलेगा, वह खुद के जीवन से संतुष्ट होगा , इसकी कोई  गारंटी नही है भावनात्मक बुद्धि को सामान्यता  ई क