Posts

Showing posts from March 16, 2020

Review of fact history four बुक|किरण प्रकाशन|आर्य कॉप्टिशन| ज्ञान पुस्तक|महेश बरनवाल

Image
  Review of fact history four बुक: ज्ञान पुस्तक,महेश बरनवाल किरण प्रकाशन,आर्य कॉप्टिशन विषय प्रवेश--  यदि कोई छात्र इंटरमीडिट के एग्जाम पास करने के बाद कॉम्पटीशन लाइन में प्रवेश करता है तो उसे पुस्तको के चयन में बहुत कंफ्यूज़न होता है। इस review से इतिहास की सही बुक लेने में मदद मिलेगी। Review of four books  आज हम बाज़ार में उपलब्ध चार फैक्ट आधारित बुक्स का रिव्यु करता हूँ ।  क्योंकि ज़्यादातर वनडे एग्जाम रेलवे,एस एस सी, लेखपाल या पटवारी का एग्जाम ग्राम विकास अधिकारी ,कांस्टेबल का एग्जाम,SI का एग्जाम,असिस्टेन्स टीचर्स,DSSB आदि के एग्जाम में इतिहास के फैक्चुअल प्रश्न पूंछे जाते हैं हालांकि वो GS पर आधारित हैं पर उन प्रश्नों हल करने के लिए भी कुछ डीप स्टडी जरूरी है। इसके लिए आप या तो आप ख़ुद नोट्स तैयार करें या फ़िर इन बुक्स की मदद लेकर विभिन्न वनडे एग्जाम में हिस्ट्री के प्रश्नों को आसानी से सही कर पाने में सक्षम हो पाते हैं।  पहली पुस्तक की बात करते है जो इतिहास के फैक्ट पर आधारित है। ज्ञान इतिहास की । इस पुस्तक का संंपादन ज्ञान चंद यादव ने किया है।    इस बुक में इतिहास के बिन्दुओं को क्रमब

कोरोना पर एक लेख , कैसे फैला ,कैसे बचें

Image
कोरोना या kovid-19 पर एक आर्टिकल कोरोना का प्रसार दुनिया के 110 देशों तक हो चुका है , दुनिया भर में करीब 2.00 लाख लोग  संक्रमित हैं और करीब 8 हजार व्यक्ति मारे जा चुके हैं  , हर देश में इसके प्रति भय व्याप्त है , चीन से होते हुए  इटली ईरान दक्षिण कोरिया ,जापान ,अमेरिका ,कनाडा, फ़्रांस,जर्मनी,पोलैंड, बेल्जियम स्पेन सहित पूरा यूरोप इसके कारण डरा हुआ है । पूरे दुनिया में इसी तरह की भयावह स्थिति आज से 100 साल पहले 1920 में प्रथम विश्व युद्ध के बाद फैली थी , इसका नाम था स्पेनिश फ़्लू ये भी खाँसी ,ज़ुकाम, बुख़ार, का रोग था ,इसमें दुनिया भर में इस रोग ने अपने पैर पसारे थे ,भारत के मुंबई से होता हुआ उत्तर भारत में फ़ैल गया था ,दुनिया भर में इस रोग से एक साल में डेढ़ करोङ से अधिक लोग मारे गए थे ,आज 100 साल बाद फिर वही आपदा ने दुनिया को अपने जाल में फंसा लिया है । हर देश बचने का प्रयत्न कर रहा है ,पर लगता है की कोविड -19 सभी को अपने शिकार में लेगा ,और जैसा की रिसर्चर ने अपनी रिपोर्ट दी है की ये रोग का वायरस भी एक साल तक अपने को समाप्त नही करेगा और क़रीब एक करोङ लोग मारे जा सकते हैं।      

DSP का full form क्या होता है।डिप्टी एस पी कैसे बनें

डी एस पी का फुल फॉर्म  डिप्टी सुप्रींटण्डेन्ट ऑफ़ पुलिस होता है (Dupty Superintend Of Police)   डी एस पी का पद एस पी से एक पद नीचे होता है और इंस्पेक्टर से बड़ा पद होता है , ये SP के कमांड से निर्देशित होता है ,ये एक सर्किल या पुलिस क्षेत्र का प्रभारी होता है इसी लिए इसे सर्किल ऑफिसर के नाम से या C O के नाम से भी जाना जाता है ।     भर्ती कैसे होती है-  Dy SP की भर्ती केंद्रीय लोक सेवा आयोग  यानि UPSC से भी होती है और राज्य लोक सेवा आयोग से भी होती है ,UPSC में केंद्र शासित प्रदेश के लिए डिप्टी एस पी की भर्ती होती होती है तो राज्य सेवा आयोग अपने राज्य के पुलिस के लिए डिप्टी एस पी की भर्ती करते है ।      इस पद में भर्ती के लिए सामान्य  योग्यता स्नातक ही है , साथ में पुरुष की हाइट 168 सेंटीमीटर और महिला के लिए 156 सेंटीमीटर निर्धारित है ।  परंतु राज्य लोक सेवा आयोग की प्रिलिम्स और मैन्स और इंटरव्यू को cross    करने के बाद एक समग्र मेरिट बनती है जसमे अभ्यर्थी के प्राप्तांक के बाद मेरिट बनती है ,सामान्यता  अभ्यर्थी SDM पोस्ट के बाद डिप्टी SP की पोस्ट को प्रेफर करते हैं , जिससे मेरिट म