Posts

अजंता की चित्रकला ..मेरी अजंता यात्रा और उनके गुफाओं के चित्र

अजंता की यात्रा ::
अजंता की चित्रकला
अजंता भ्रमण और अजंता की गुफाओं के विश्व प्रसिद्ध चित्र.
 सह्याद्रि पर्वतों के उत्तुंग शिखर जो आज भी हरियाली को समेटे है , चारो तरफ पहाड़ ही पहाड़ दिखाई देते है इस मनोरम स्थल को देखते निहारते हुए जब मैं टैक्सी में बैठे बैठे सोंच रहा था इस रमणीक स्थल में 2000 पहले से मौर्य,सातवाहन, वाकाटक ,राष्ट्रकूट जैसे राजवंशों ने अपनी शौर्य  गाथाएं लिखीं ,  मध्य काल में छत्रपति शिवाजी  के पराक्रम और शौर्य की ये वादियां गवाह है ,  एक नाथ तुकाराम और रामदेव जैसे महान संतो के भजन जिनसे समाज में नई चेतना मिली , मेरा मन प्रफुल्लित था इस वीर भूमि और  शांत भूमि में आकर प्रकृति के साथ अठखेलियां खेलते खेलते औरंगाबाद जिले के गांव फरदारपुर में अजंता के पास पहुंचा, टैक्सी वाले ने मुझे एक होटल में पहुँचाया वो बहुत सुविधाजनक तो नही था पर मैंने एक रात बिताने के लिए ठीक ही समझा , अगले दिन हमने एक टैक्सी ली जिसने दो घण्टे के बाद हमे उस तलहटी में पहुँचाया जहां से ऊपर जाना था अजंता गुफ़ा देखने के लिए ,  टैक्सी के ड्राईवर हमे ऊपर तो ले गए पर   चार किलोमीटर पहले ही छोड़ दिया क्योंकि महाराष…

CBSE का full form क्या होता है

CBSE का full form क्या है , CBSE का क्या मतलब है।CBSE का full form है -- Central Board of Secondery Education
 हिंदी में--केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड 

भारत मे  आधुनिक शिक्षा व्यवस्था की शुरुआत  ब्रिटिश पीरियड से ही हो गई थी ,उस समय शिक्षा का प्रसार जनसंख्या के बहुत कम हिस्से तक ही पहुंच पाया था ,  मैकाले शिक्षा पद्धति के प्रयोग  के बाद  समय समय पर ब्रिटिश सरकार द्वारा शिक्षा में सुधार होते रहे ,1947 तक आते आते देश भर में कई माध्यमिक विद्यालय भी बन चुके थे ,उनको सब को आजादी के बाद संगठित करने की आवश्यकता महसूस हुई ,जिसके तहत देश  के आज़ादी के बाद देश के सभी विद्यालयों में सुचारू और समान शिक्षा पद्धति की जरूरत महसूस हुई 1957 में शिक्षा बोर्ड का गठन हुआ और  3नवंबर 1962 को इसे पुनर्गठित करके CBSE की स्थापना हुई , आज CBSE देश के सार्वजनिक और निजी स्कूलों के लिए नीतिगत उपाय, शिक्षण कौशल में विकास, देश भर में दसवीं और बारहवीं के परीक्षाओं को करने की जम्मेदारी उठाता है और साथ मे कभी कभी सेंटर  गवर्नमेंट किसी अन्य exam की भी इसी बोर्ड से आयोजित करवाता है।                      CBSE ,यानी सेकं…

SLR का फुल फॉर्म क्या है

SLR का फुल फॉर्म क्या होता है ,SLR का क्या अर्थ है?
SLR --  ये एक विशेष प्रकार की बंदूक होती है जिसमे हर बार फायर के बाद गोली नही भरनी पड़ती बल्कि इसमें एक गोली चलाने के तुरंत बाद दूसरी गोली ऑटोमैटिक नली में लीड हो जाती है, इन राइफल में कलाश्निकोव या AK-47 राइफल, और M-18 जैसी बंदूके आती हैं।  SLR---SLR का full form है statutary liquidity ratio। हिंदी में इसे संविधिक तरलता अनुपात कहते हैं  संविधिक तरलता अनुपात एक बैंकिंग शब्दावली है और रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा   निर्देश किया जाता है देश के सभी अधीनस्थ बैंक के लिए अपने खातेदारों  के जमा  की गई   रकम या अन्य माध्यमों से प्राप्त निधि को केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा निर्मित प्रतिभूति पत्रों को खरीदने और सोना में निवेश करने साथ मे नोटों के रूप में  अपने बैंक के पास जमा रखनी होती है , संविधिक तरलता अनुपात में CRR से थोड़ा अंतर होता है उसमें भी तरलता बनाये रखने के लिए कोष में नोट रखने पड़ते है वहीं SLR में जो बांड केंद्र या राज्य से खरीदे जाते हैं उनमें उस बैंक को ब्याज भी मिलता है । SLR को ऐसे समझते है यदि आपने 100 रुपये बैंक में जमा क…

Full form of NCC

NCC का full form क्या है?NCC का full form है----"National Cadet Corps"
हिंदी में राष्ट्रीय कैडेट कोर्स कहते है।

आपने कई बार किसी स्कूल और कॉलेजों के फील्ड में कुछ पूर्ण युवा लड़को  और युवा लड़कियों को परेड करते देखा होगा ,और आप सोचते होंगे कि ये किसी पुलिस या पी ए सी की ट्रेनिंग हो रही है ,ये युवा पूरी तरह वर्दी धारी होते हैं ,पर आपको ये जानकारी हो कि स्कूल और कॉलेज के स्तर पर स्टूडेंट को एन सी सी की ट्रेनिंग दी जाती है , स्कूलों और कॉलेजों में कैडेट्स रंगरूटों का एक सैनिक संगठन होता है। इस संगठन की स्थापना 14 जुलाई 1947 को की गई थी और इस संगठन का मुख्यालय नई दिल्ली में है।

 एन सी सी की  ट्रेनिंग में कैडेट्स के अंदर देशभक्ति की भावना से लबरेज किया जाता है और उनको अनुशासन में रहना सिखाया जाता है, ये कैडेट्स एक प्रकार से सेना की कमी को पूरा करती हैं क्योंकि इनको ट्रेनिंग के दरमियान सेना की तरह ही ट्रेनिंग दी जाती है।सेना का आदर्श वाक्य भी एकता और अनुशासन ही है, NCC के ध्वज में तीन कलर होते है एक लाल रंग दूसरा गहरा नीला तीसरा हल्का नीला,ये रंग कॉर्प्स की तीनों सेनाओं को दर्शाते …

NSG का full form

Image
NSG का full form क्या है।     NSG का full form है---National Security Guard
National Security Guard --------------- राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड को आम भाषा मे NSG कमांडो या ब्लैक कैट कमांडो भी कहा जाता है ,ब्लैक कैट कमांडो एक ऐसी सुरक्षा सेवा है जो आतंकी गतिविधियों को रोक लगाने के लिए 16 अक्टूबर 1984 को गठित हुआ ,1986 में संसद द्वारा पारित राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड अधिनियम के तहत कैबिनेट सचिवालय के तहत खड़ा किया गया था,NSG बल शत प्रतिशत प्रतिनियुक्ति पर आधारित है,इसमे सेना राज्य पुलिस और अर्ध सैन्य बल से कार्मिक प्रतिनियुक्त पर आते हैं

ये सुपरमैन की नियुक्ति भारतीय सेना, पैरा मिलिट्री फ़ोर्स और भारत के पुलिस सेवा से ली जाती है ,इन कमाण्डो को बनने के लिए 35 वर्ष से कम आयु का होना जरूरी है ,ये कमांडो के चयन में फिजिकल और मेन्टल रूप से पूर्णतयः मज़बूत होना चाहिए , इनकी ट्रेनिंग 90 दिन की होती है ,जो बेहद कठिन होती है इसमें पहले 18 मिनट में 26 करतब करने होते हैं तयह 780 मीटर की बाधाओं को पार करना होता है जो सैनिक 20 से 25 मिनट के इन टेस्ट में पास नही हो पाता उसे बाहर कर दिया जाता है बचे हुए चयनित क…

Full form of CBI .CBI का फुल फॉर्म क्या होता है?

CBI का full form है Central Bureau of Investigation या 
हिंदी में 
केंद्रीय जांच ब्यूरो  कहते हैं

सी बी आई भारत की प्रमुख अन्वेषण एजेंसी है
सी बी आई भारत सरकार की मुख्य एजेंसी है जो आपराधिक मामलों की जांच करती है,सी बी आई कि स्थापना 1941 में विशेष पुलिस के रूप में कई गई थी  1963 में इसका नाम बदल कर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो कर दिया गया। इस एजेंसीय का मुख्यालय राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में है जो जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम के सी जी ओ कॉम्लेक्स में स्थित है ,सम्पूर्ण भारत के मुख्य शहरों में इसके फील्ड कार्यालय हैं,सी बी आई केंद्र सरकार  शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय के अंतर्गत कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के अंतर्गत कार्य करती है,इसकी अध्यक्षता एक केंद्रीय मंत्री  करता है,जो सीधे प्रधानमन्त्री को रिपोर्ट करता है।
सीबीआई जटिल मामलों की गुत्थी सुलझाती है,यह कत्ल के मामले ,आर्थिक अपराध के मामले,1987 में सी बी आई को भ्रस्टाचार रोधी विभाग और विशेष अपराध विभाग के रूप में दो भागों में  बाटा गया।
   सी बी आई का अध्यक्ष निदेशक ,पुलिस महानिदेशक नामक IPS अधिकारी द्वारा की जाती है ,निदेशक का कार्यकाल दो वर्ष का होत…

सात साल के बच्चे का मनोविज्ञान क्या है क्या सोंचता है सात साल का बच्चा,seven year child thoughts and game

Image
सात साल के बच्चे का मनोविज्ञान क्या है ?   क्या  सोंचता  है ,सात साल का बच्चा!

छह साल क्रॉस करने के बाद जब बालक  सातवें साल में प्रवेश करता है तो ,उसके स्वभाव और उसके सोंच में क्या परिवर्तन होते हैं । ये मनोवैज्ञानिक कारण क्या है!
                सात साल क्रॉस करते ही बालक  की  बोल ने और बातचीत करने की क्षमता   में अधिक सुधार होता है  उसके द्वारा बोले जाने वाले शब्द ज्यादा स्पष्ट होते है वो अपने अंदर दस हजार शब्दों को वोकेबुलरी में रखता है उसकी grasping power अधिक होती है वो विभिन्न कार्टून में विभिनन संवादों की बातों को अक्षरसः बोलने लगता है इस पर किसी दूसरे बन्दे को आश्चर्य भी हो सकता है क्योंकि बच्चा क्लिस्ट शब्द जो कार्टून का कलाकार बोलता है उसे स्वीकार कर लेता है।
              सात साल के बालक में तार्किक क्षमता का विकास होता है , बालक तुलनात्मक प्रश्न अपने माता पिता से पूंछता है क्योंकि  वो उनके बारे में सोंचता है  ,जैसे वो आपसे पूंछ सकता है  तालाब बड़ा होता है या झील, क्या क्रेन ट्रैन को घसीट सकती है , क्या बब्बर शेर टाइगर को  हरा सकता है, हेलीकाप्टर ज्यादा आवाज करता है या हवाई…

इरफ़ान खान :एक अभिनेता की कहानी

Image
इरफ़ान ख़ान :एक उम्दा अभिनेता
इरफ़ान ख़ान का बचपन-

 साहबजादे    इरफ़ान अली   ख़ान का जन्म 7 जनवरी 1967 को राजस्थान के टोंक जिले में हुआ था इरफ़ान ख़ान जयपुर के पठान परिवार से ताल्लुक रखते थे , इरफ़ान ख़ान के पिता का जयपुर शहर में टायर का व्यापार था , इरफ़ान खान के पिता का नाम यास्मीन अली ख़ान था और माता का नाम सईदा बेगम था , इरफ़ान खान तीन भाई बहन थे , इरफ़ान खान का बचपन जयपुर में ही बीता उन्हें बचपन में स्कूल जाना बड़ा बोरियत भरा काम लगता था ,  यद्यपि उन्हें पढ़ना अच्छा लगता था ,पढ़ने में उनकी गिनती बहुत तेजतर्रार बच्चों में नही थी ,पर मध्यमदर्जे के स्टूडेंट थे।
इरफ़ान खान बचपन में अपने पिता के साथ जयपुर के जंगल में शिकार के लिए जाते थे ,उनको जंगल में रात बिताना अच्छा लगता था ,वो जंगल में पेंड पौधों और विभिन्न प्रकार के जीव जन्तुवों को गौर से देखते थे वो प्रकृति प्रेमी थे , पर उनको पिता के शिकार की बात समझ में नही आती थी परंतु उन्होंने अपने पिता से कभी ये पूंछने की हिम्मत नही जुटाई कि वो निर्दोष जानवरों को क्यों शिकार करते है पर उनकी माता ने बताया की शिकार का शौक उनको उनके बाबा से मिला था। जब 10 वर्…

सिंधु घाटी सभ्यता के प्रमुख स्थल

मोहन जोदड़ो--
 मोहनजोदड़ो के भवन में कई इमारतें थीं जो आग में पकाई गई ईंटों से बनीं थीं उदाहरणस्वरूप महा स्नानागार, महाविद्यालय, अन्नागार और सभाकक्ष इसका स्नानागार 12 मीटर लंबा और सात मीटर चौड़ा था और 2.5 मीटर गहरा था,इसके उत्तर और दक्षिण चढ़ने की सीढ़ियाँ थीं,इसकी फर्श और अगल बगल की दीवारों पर बिटुमिन्स की पर्त लगाकर वाटरप्रूफ बनाया गया था इस तालाब के अंदर पानी से भरने के लिए एक कुआँ था  और तालाब की सफाई और पानी निकासी के लिए तालाब के दक्षिण पश्चिम में    एक  तोडा दार (Corbelled) नाली थी।इस जलाशय के चारो जोर बरामदा था और जिसके चारो और कमरे थे।
महाविद्यालय--- कुषाणकालीन स्तूप और स्नानागार के बीच एक बड़ी इमारत के अवशेष पाये गए है, जिसे विद्वानों ने महाविद्यालय कहा है। यह इमारत बहुमञ्जली थी ,कुछ लोग इसे पुरोहित का आवास भी कहते है।
अन्नागार(Granary):
स्नानागार के दक्षिण पश्चिम दीवार से लगा हुआ  विशाल अन्नगार था जिसका पूरा क्षेत्रफल 55 मीटर×37 मीटर का था  ,इसमें 27 खण्डों में विभाजित एक चबूतरा था जो तीन श्रेणियों में बटा था और हर श्रेणी में नौ नौ खण्ड थे जो एक दूसरे से एक मीटर चौड़े रास्ते से विभा…