Posts

Showing posts from April 20, 2020

राम वी. सुतार मूर्तिकार की जीवनी

Image
 राम वी सुतार मूर्तिकार की जीवनी---- राम वी सुतार का प्रारंभिक जीवन ---राम वी सुतार का जन्म 19 फरवरी 1925 को जिला धूलिया  ग्राम गुंदूर महाराष्ट्र में हुआ था राम जी सुतार भारत के सुप्रसिद्ध मूर्तिकार है इनका पूरा नाम राम वन जी सुतार है ,इनके पिता गाँव मे ग़रीब परिवार से थे ,इनका विवाह 1957 में प्रमिला से हुआ ,इनके पुत्र का नाम अनिल रामसुतार है जो पेशे से वास्तुकार हैं और नोयडा में रहते हैं।   शिक्षा -- इनकी शिक्षा इनके गुरु रामकृष्ण जोशी से प्रेरणा लेकर जे जे स्कूल ऑफ आर्ट में हुआ,1953 में इनको इसी कॉलेज से मोडलिंग विधा में गोल्ड मेडल मिला। कार्य - 1958 में आप सूचना प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार के दृश्य श्रव्य विभाग में तकनीकी सहायक भी रहे 1959 में आपने स्वेच्छा से सरकारी नौकरी त्याग दी और पेशेवर मूर्तिकार बन गए  मोडलर के रूप में औरंगाबाद  आर्कियोलॉजी मे  रहते हुए 1954 से 1958 तक आपने अजंता और एलोरा की प्राचीन  मूर्तियों की पुनर्स्थापन का काम किया।   आप द्वारा निर्मित कुछ मूर्तियां इस प्रकार है -- आपने 150 से अधिक देशों में गांधी जी की मूर्तियां को बनाया --आपने 45 फुट ऊंची चंबल नदी मूर्

RPF का full form क्या है

Image
RPF का full form क्या है? RPF-आर पी एफ full form है -- railway protection force रेलवे सुरक्षा बल  भारतीय रेलवे सुरक्षा बल एक केंद्रीय सुरक्षा बल है इसका कार्य रेलवे के अंतर्गत आने वाली भूमि पर किसी भी कब्जा होने से रोकना।साथ में रेल यात्रियों के यात्रा के दौरान उनके सामान की सुरक्षा करना साथ में रेल यात्रियों की यात्रा को सुखद और सुरक्षित बनाना, यह बल प्रहरी और निगहबान कहलाता है ,रेलवे सुरक्षा बल को अपने काम को अंजाम देने के लिए पूरा प्रशासनिक ढांचा है जो रेलवे प्रशासन के सामान्य पर्यवेक्षण में काम करता है। इस समय आर.पी. एफ. के पास 65 हजार सिपाहियों की  जनशक्ति है। RPF वास्तव में रेलवे पुलिस /स्थानीय पुलिस और और रेल प्रशासन के बीच एक सेतु का काम करता है।     RPF रेल यात्रा को सुरक्षित बनाने के लिए रेलवे सम्पति अधिनियम 1966 : के अंतर्गत किसी संदिग्ध व्यक्ति के रेलवे के आसपास घूमने  पर उनसे पूंछतांछ कर सकती है इन्वेस्टिगेट कर सकती है साथ मे आम संदिग्ध होने पर गिरफ्तार भी कर सकता है। मुकदमा चला सकती है। यह अधिनियम, किसी को भी, जो किसी भी रेलवे संपत्ति के कब्जे में पाया गया है या साबित