Posts

Showing posts from July 2, 2019

Full form of GIF ,GIF का full form क्या है

G I F का full form होता है  Graphics Interchange Format यानि graphics का ऐसा फॉर्मेट जो interchange होता रहता है आप उन इमेजेज को GIF image भी कह सकते हो जो animated IMAGE हैं।

GIF का फुल फॉर्म ग्राफिक्स इंटरचेंज फॉर्मेट है। जीआईएफ एक बिटमैप छवि प्रारूप है जिसे 15 जून, 1987 को अमेरिकी कंप्यूटर वैज्ञानिक स्टीव विल्हाइट के नेतृत्व में बुलेटिन बोर्ड सेवा (बीबीएस) प्रदाता कम्पयू सर्व( compuserve) में एक टीम द्वारा विकसित किया गया था। एक एनिमेटेड तस्वीर बनाने के लिए जीआईएफ विभिन्न बिटमैप फ़ाइलों की एक श्रृंखला है। । यह एक 8 बिट प्रारूप है जिसका अर्थ है कि प्रारूप द्वारा समर्थित रंगों की अधिकतम संख्या 256 है। दो GIF मानक, 87a और 89a हैं।GIF 89 update   वर्जन है ,  प्रत्येक पिक्सेल में, यह GIF छवि में दो सौ और छप्पन में से एक रंग शामिल करता है। जीआईएफ आकार में छोटे और कॉम्पैक्ट हैं और आप उन्हें किसी भी प्लेटफॉर्म पर आसानी से साझा कर सकते हैं। जीआईएफ एक गतिशील छवि है जो बिना किसी ध्वनि के वीडियो की तरह है। यह एक iPhone की लाइव तस्वीर की तरह है। यह एक छोटी सी वीडियो क्लिप है जो खुद को तब तक रिप्…

Pipal ke pend se 24 hour oxygen kaise?

Image
पीपल रात को भी ऑक्सीजन कैसे छोड़ता है!!           :: प्रकाश संश्लेषण के प्रकार ::                    प्रकाश संश्लेषण की क्रिया तीन तरह की होती है पहली C3 दूसरी C4 तीसरी CAM प्रकार की । पहले प्रकार में सामान्य पौधे आते है जो इस विधि से प्रकाश संश्लेषण करते है,               
              C A M प्रकार के प्रकाश संश्लेषण की विशेषतायें::-             CAM प्रकार के प्रकाश संश्लेषण वाले पौधे या तो रेगिस्तानी पेंड़ में होता है या फिर  या  अधिपादप  पौधों में होता है ,अधिपादप वो बृक्ष या पादप  होते है जो दूसरे पेंड़ पर उनके तनों में भी उग आते हैं, कभी कभी पीपल का पेंड़ जिस पौधे का आश्रय लेकर उगता है  उसी पौधे को धीरे धीरे खत्म करके ख़ुद अपना विस्तार करता है इस प्रकार ये जरुरी नही कि जो पीपल का पेंड़ किसी दूसरे बृक्ष के साथ जुड़ा हुआ दिखाई दे वही अधिपादप के गुण रखता है बल्कि एक बड़ा पीपल का पेंड़ भी अधिपादप हो सकता है जो प्रारंभिक अवस्था में अपने साथ संयुगमित बृक्ष को सुखा दिया हो और ख़ुद विस्तारित हुआ हो, चूँकि  रेगिस्तान में पानी की कमी होती है अतः वहां के पेंड़ की रचना भी ऐसी होती है कि वो…