Posts

Showing posts from May 10, 2020

अकबर पद्मसी आर्टिस्ट की जीवनी।

Image
 अकबर पद्मसी आर्टिस्ट की जीवनी।  अकबर पद्मसी आर्टिस्ट की जीवनी हिंदी में। अकबर पद्मसी को एस. एच. रजा ,F N सूजा, M.F. हुसैन की श्रेणी में रखा जाता है। इन्होंने कई विधाओं में कार्य किया , अकबर पद्मसी ने तैल रंग ,जल रंग ,स्कल्पचर और प्रिंटमेकिंग में , लिथोग्राफी,  में कंप्यूटर ग्राफ़िक्स में कार्य किया। अकबर पदमसी  अकबर पदमसी का प्रारंभिक जीवन -- अकबर पद्मसी का जन्म गुजरात के कच्छ क्षेत्र में एक मुस्लिम खोजा जाति में हुआ था ,इनके पूर्वज पहले राज दरबार मे कविता और गायन वादन किया करते थे जिन्हें चारण कहा जाता था। पद्मसी के बाबा काठियावाड़ क्षेत्र के गांव वघनगर के सरपंच थे तब लोंगों ने उनके अच्छे कार्यों के कारण पदमसी की उपाधि दी थी जो वास्तव में पद्मश्री का अपभ्रंश है।पद्मसी के पिता हसन पदमसी एक जाने माने व्यापारी थे जिनका फर्नीचर का व्यापार था वो बहुत धनी थे उनके दस मकान थे।परंतु इतना होने के बावजूद पदमसी परिवार में कोई पढ़ा लिखा व्यक्ति नहीं था ,तब अकबर पद्मसी जो सात भाइयों में से एक थे  ,इनके एक भाई एलिक पदमसी थे जिन्होंने थियेटर रंगमंच में नाट्यदक्षता से अपनी पहचान बनाई थी  वो थिएटर आर्टिस

NSG का full form

Image
NSG का full form क्या है।     NSG का full form है---National Security Guard   National Security Guard  --------------- राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड को आम भाषा मे NSG कमांडो या ब्लैक कैट कमांडो भी कहा जाता है ,ब्लैक कैट कमांडो एक ऐसी सुरक्षा सेवा है जो आतंकी गतिविधियों को रोक लगाने के लिए 16 अक्टूबर 1984 को गठित हुआ ,1986 में संसद द्वारा पारित राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड अधिनियम के तहत कैबिनेट सचिवालय के तहत खड़ा किया गया था,NSG बल शत प्रतिशत प्रतिनियुक्ति पर आधारित है,इसमे सेना राज्य पुलिस और अर्ध सैन्य बल से कार्मिक प्रतिनियुक्त पर आते हैं ये सुपरमैन की नियुक्ति भारतीय सेना, पैरा मिलिट्री फ़ोर्स और भारत के पुलिस सेवा से ली जाती है ,इन कमाण्डो को बनने के लिए 35 वर्ष से कम आयु का होना जरूरी है ,ये कमांडो के चयन में फिजिकल और मेन्टल रूप से पूर्णतयः मज़बूत होना चाहिए , इनकी ट्रेनिंग 90 दिन की होती है ,जो बेहद कठिन होती है इसमें पहले 18 मिनट में 26 करतब करने होते हैं तयह 780 मीटर की बाधाओं को पार करना होता है जो सैनिक 20 से 25 मिनट के इन टेस्ट में पास नही हो पाता उसे बाहर कर दिया जाता है बचे