अकबर पद्मसी आर्टिस्ट की जीवनी।

Image
 अकबर पद्मसी आर्टिस्ट की जीवनी।  अकबर पद्मसी आर्टिस्ट की जीवनी हिंदी में। अकबर पद्मसी को एस. एच. रजा ,F N सूजा, M.F. हुसैन की श्रेणी में रखा जाता है। इन्होंने कई विधाओं में कार्य किया , अकबर पद्मसी ने तैल रंग ,जल रंग ,स्कल्पचर और प्रिंटमेकिंग में , लिथोग्राफी,  में कंप्यूटर ग्राफ़िक्स में कार्य किया। अकबर पदमसी  अकबर पदमसी का प्रारंभिक जीवन -- अकबर पद्मसी का जन्म गुजरात के कच्छ क्षेत्र में एक मुस्लिम खोजा जाति में हुआ था ,इनके पूर्वज पहले राज दरबार मे कविता और गायन वादन किया करते थे जिन्हें चारण कहा जाता था। पद्मसी के बाबा काठियावाड़ क्षेत्र के गांव वघनगर के सरपंच थे तब लोंगों ने उनके अच्छे कार्यों के कारण पदमसी की उपाधि दी थी जो वास्तव में पद्मश्री का अपभ्रंश है।पद्मसी के पिता हसन पदमसी एक जाने माने व्यापारी थे जिनका फर्नीचर का व्यापार था वो बहुत धनी थे उनके दस मकान थे।परंतु इतना होने के बावजूद पदमसी परिवार में कोई पढ़ा लिखा व्यक्ति नहीं था ,तब अकबर पद्मसी जो सात भाइयों में से एक थे  ,इनके एक भाई एलिक पदमसी थे जिन्होंने थियेटर रंगमंच में नाट्यदक्षता से अपनी पहचान बनाई थी  वो थिएटर आर्टिस

GAIL का full form क्या है

Gail का full form क्या है

GAIL का full form है Gas Authority Of India Limited
 इसको हिंदी में गेल कहते हैं गैस अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड को हिंदी में भारतीय गैस प्राधिकरण लिमिटेड कहते हैं।
      गेल भारत की सबसे बड़ी प्राकृतिक गैस प्रसंस्करण और वितरण कंपनी है इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है
 1984 में भारत सरकार ने गेल कंपनी की स्थापना पेट्रोलियम और प्राकृतिक ह
गैस मंत्रालय के तहत एक    public sector unit के तहत   किया  था।
 इसके लिए भारत में गैस पाइप लाइन के माध्यम से गैस वितरित होती है

Comments

Popular posts from this blog

Gupt kaal ki samajik arthik vyavastha,, गुप्त काल की सामाजिक आर्थिक व्यवस्था

Tamra pashan kaal ताम्र पाषाण युग The Chalcolithic Age

इटली ka एकीकरण , Unification of itli