Posts

अंध भक्ति किसे कहते हैं जानिए कौन होते हैं अंधभक्त

Image
  अंधभक्त किसे कहते हैं? अंध भक्त का शाब्दिक अर्थ- अंधभक्त का तात्पर्य हिन्दी शब्दावली के अनुसार वो भक्त जो आंख बंद कर दुसरों का अनुसरण करें। अनुयायी जो अपने नेता पर अधिक भरोसा करे । और  अपने विवेक का इस्तेमाल बिल्कुल न करे।     अन्ध शब्द के अन्य मिश्रित शब्द अंध प्रेम-Blind love अंध भक्त-Blind supporter अंध विश्वास-  Superstition ,Blind Faith अंध राष्ट्रवाद -Blind Patriotism अंध-Blind भक्त- Worshiper भक्ति शब्द  का प्रयोग ईश्वर भक्ति ,मातृ भक्ति,पितृ भक्ति ,राष्ट्र भक्ति ,  आदि भक्त वो हैं जो   जो भक्ति करते है जो  किसी में श्रद्धा और आस्था और  विश्वास रखतें हैं।  जैसे -शिव भक्त , कृष्ण भक्त ,देवी भक्त ,राष्ट्र भक्त आदि हैं। जो भक्ति करते है अंधभक्त का तात्पर्य किसी भी व्यक्ति पर ऑंखमूँदकर विश्वास करने वाला अनुयायी। जिसमें व्यक्ति अपने विवर्क और तर्क का प्रयोग न करे। निरीश्वरवादी बौद्ध अन्य धर्म अनुयाइयों के धर्म ग्रंथ में अकल्पनीय बातों का खंडन करते है ,वो हिन्दू ,मुस्लिम ,ईसाइयों के धर्म ग्रथों में दिए गए कई कथानकों का खंडन करते है और कपोल कल्पित कहते हैं  और इन धर्मों में आस्था रख

RTPCR ka full form kya hai RTPCR क्या है

RTPCR का full form क्या है। R. T. P. C. R. का फूल  फॉर्म हिंदी में   रिवर्स ट्रांस्क्रिप्शन पालीमर चेन रिएक्शन R - Reverse  T -Transcription  P- Polymer C- Chain R- Reaction   आर टी पी सी आर परीक्षण क्या है - R. T. P. C. R. टेस्ट में गले और नाक स्वैब को लैब में ले जाकर परीक्षण किया जाता है , इस परीक्षण में वायरस के सेल के अंदर एकल कड़ी  RNA (Single Helix)  को DNA डबल हेलिक्स  (Double  Helix) में बदला जाता है , इस प्रक्रिया को रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन कहते हैं उसके बाद DNA की काउंटिंग की जाती है , इस प्रक्रिया को पॉलीमर चेन रिएक्शन कहते हैं।   आरटी-पीसीआर किसी भी रोगज़नक़ में विशिष्ट आनुवंशिक सामग्री  और उसमे उपस्थित वायरस की उपस्थिति का पता लगाने के लिए एक परमाणु-व्युत्पन्न विधि है।    मूल रूप से इस विधि ने निश्चित कर दिए गए आनुवंशिक सामग्रियों का पता लगाने के लिए रेडियोधर्मी आइसोटोप मार्करों का उपयोग किया था ।     लेकिन बाद में  रिसर्च ने विशेष मार्करों के साथ प्रयोग होने लगे फ्लोरेसेंट रंजक का प्रयोग होने लगा।    यह तकनीक वैज्ञानिकों को प्रक्रिया को जारी रखते हुए लगभग तुरंत परिणाम देखने

हनुमान जी की आरती Hanuman ji ki Arti

Image
हनुमान जी की आरती- (पंचमुखी हनुमान जी) आरती: हनुमान जी की आरती कीजै हनुमान लला की,दुष्ट दलन रघुनाथ कला की। जाके बल से गिरिवर कांपै,रोग दोष जाके निकट न झाँपै। अंजनि पुत्र महा बलदाई,संतन के प्रभु सदा सहाई। दे बीरा रघुनाथ पठाये,लंका जारि सिय सुध लाये। लंका सो कोट समुद्र सी खाई ,जात पवनसुत बार न लाई। लंका जारि असुर संहारे,सियारामजी के काज सँवारे। लक्ष्मण मूर्छित पड़े सकारे,आनि सजीवन प्राण उबारे। पैठि पताल तोरि जम-कारे, अहिरावन की भुजा उखारे। बाएं  भुजा असुर दल मारे,दाहिनी भुजा संतजन तारे। सुर नर मुनिजन आरती उतारें,जै जै जै हनुमान उचारें। कंचन थार कपूर लौ छाई, आरती करत अंजना माई। जो हनुमान जी की आरती गावै ,बसि बैकुंठ परम पद पावै। लंक विध्वंस किये रघुराई।तुलसीदास स्वामी कीरत  गाई। आरती कीजै हनुमान लला की।दुष्ट दलन रघुनाथ कला की।   Hanuman Aarti (English)  Aarti kije hanuman lala ki  dusht dalan ragunath kala ki  aarti kije hanuman lala ki  dusht dalan ragunath kala ki  aarti kije hanuman lala ki  jake bal se girivar kaanpe  rog dosh ja ke nikat na jhaanke  anjani putra maha baldaaee  santan k

असम के विधि कॉलेज law college in Asam

1- देशबंधु चित्तरंजन स्कूल ऑफ लीगल स्टडीज, असम विश्वविद्यालय, सिलचर  2-राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय और न्यायिक अकादमी, असम  3-नेशनल एज्युकेशन फाउंडेशन (एन ई एफ) लॉ कॉलेज गुवाहाटी, असम  4-दीफू लॉ कॉलेज दीफू, असम  5- ए के चंदा लॉ कॉलेज सिलचर, असम  6-सेंटर फॉर ज्यूरिडिकल स्टडीज, डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय डिब्रूगढ़, असम  7-एस.आई.पी.ई.  लॉ कॉलेज, डिब्रूगढ़, असम  8-जोरहाट लॉ कॉलेज, जोरहाट, असम ( वर्ष 1964 में स्थापित)  9-नॉर्थ लखीमपुर लॉ कॉलेज, ( वर्ष1999 में स्थापित) नॉर्थ लखीमपुर  10-तिनसुकिया लॉ कॉलेज (1973 में स्थापित)  11-यूनिवर्सिटी लॉ कॉलेज, गौहाटी   12-बी. आर. एम.  सरकार लॉ कॉलेज गुवाहाटी  13-बारपेटा लॉ कॉलेज (वर्ष 1972 में स्थापित)  14-धुबरी लॉ कॉलेज ( वर्ष 1967 में स्थापित)  15-तेजपुर लॉ कॉलेज, नापान सोनितपुर  16-गोलपारा लॉ कॉलेज ( स्थापित वर्ष 1967)  17-बोंगाईगाँव लॉ कॉलेज ( वर्ष 1994 में स्थापित हुआ)  18-नोवोंग लॉ कॉलेज, नागाँव (वर्ष 1990 में स्थापित) 19- दिसपुर लॉ कॉलेज  20-कोकराझार लॉ कॉलेज (1988 में स्थापित)  21-मंगलदई लॉ कॉलेज  22-जे.बी लॉ कॉलेज गुवाहाटी  23-नलबाड़ी लॉ कॉलेज (

हरियाणा के प्रमुख लॉ कॉलेज

  हरियाणा के प्रमुख लॉ कॉलेज-- 1-लाला अमी चंद मोंगा मेमोरियल कॉलेज ऑफ लॉ, अंबाला (कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र से संबद्ध) 2- जिंदल ग्लोबल लॉ स्कूल, जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी, सोनीपत, हरियाणा  3-स्कूल ऑफ लॉ, नॉर्थपैक यूनिवर्सिटी, गुरुग्राम, हरियाणा 4- कानून विभाग, महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय, रोहतक  5-वैश्य कॉलेज ऑफ लॉ, रोहतक  6-श्रीमती  शांति देवी लॉ कॉलेज, सहारनवास, रेवाड़ी संबद्ध एमडीयू, रोहतक से  7-कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र का विधि संस्थान  8-विधि विभाग, चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय, [सिरसा] 9-चज्जू राम लॉ कॉलेज, हिसार।  कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र से संबद्ध  10-गीता इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ, पानीपत (कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र से संबद्ध)  11-एसबीएस कॉलेज ऑफ लॉ, गोहाना रोड, रोहतक से एमडीयू, रोहतक से संबद्ध।

जम्मू-कश्मीर में मुख्य लॉ कॉलेज/फैकल्टी हिंदी में

  जम्मू -कश्मीर के प्रमुख लॉ कॉलेज/फैकल्टी हिंदी में 1-कानून विभाग (कश्मीर विश्वविद्यालय, श्रीनगर) 2-कानून विभाग ,जम्मू विश्वविद्यालय, जम्मू 3-लॉ स्कूल ,जम्मू विश्वविद्यालय, जम्मू 4-डोगरा लॉ कॉलेज, बारी ब्रह्मना, जम्मू 5-के.सी. लॉ कॉलेज, जम्मू 6-स्कूल ऑफ लीगल स्टडीज, (सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ कश्मीर, श्रीनगर)  7-सोपोर लॉ कॉलेज, सोपोर, कश्मीर 8- कश्मीर लॉ कॉलेज, श्रीनगर  9-पुलवामा लॉ कॉलेज, पुलवामा, कश्मीर 10- वितस्ता लॉ कॉलेज, श्रीनगर

DU LLB प्रवेश परीक्षा

 DU-LLB प्रवेश परीक्षा  परीक्षा का नाम - दिल्ली विश्वविद्यालय एलएलबी प्रवेश परीक्षा  लोकप्रिय नाम - DU LL.B प्रवेश परीक्षा  संचालन प्राधिकरण (authority) : विधि संकाय, दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली  DU LLB प्रवेश परीक्षा पात्रता ---  (i) सामान्य, अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति (एससी / एसटी) उम्मीदवारों के लिए पात्रता मानदंड अध्यादेश में दिया गया है।  एलएलबी में प्रवेश के लिए पात्रता मानदंड     (ii) सामान्य और अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के उम्मीदवारों के लिए, दिल्ली विश्वविद्यालय या किसी भी अन्य भारतीय या विदेशी विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट / पोस्ट-ग्रेजुएट डिग्री, दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा कम से कम 50% अंकों या समकक्ष ग्रेड के साथ मान्यता प्राप्त।    हालांकि, प्रवेश परीक्षा में सामान्य उम्मीदवारों के लिए अधिसूचित अंकों से ओबीसी उम्मीदवारों के प्रवेश के लिए कट ऑफ अंक 10% तक कम होगा।  (iii) सामान्य उम्मीदवारों के लिए निर्धारित न्यूनतम पात्रता में 5% अंकों की छूट अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) श्रेणी में दी जाएगी।  (भारत के माननीय उच्चतम न्यायालय के फैसले के अनुपालन में पी.वी. इंडीयरसन बनाम भारत संघ