Bitcoin क्या है|कैसे काम करता है| कैसे कमाया जा सकता है?

Image
  Bitcoin क्या है|कैसे काम करता हैऔर कैसे कमाया जा सकता है? बिटकॉइन एक आभासी मुद्रा है जिसे अंग्रेजी भाषा मे क्रिप्टो करेंसी कहते है क्रिप्टो करेंसी कई एक हैं उनमें से एक का नाम बिटकॉइन है , बिटकॉइन एक आभासी मुद्रा है  जिसे आप  छुकर या टटोल कर नहीं देख सकते हो। बिटकॉइन का न तो   नोटों के रूप में या सिक्कों के रूप में लेन देन होता है  न ही  आप  बिटकॉइन को अपने रुपये रखने वॉलेट या पर्स या बटुआ  में  रख सकते हो जैसे  दूसरे नोट और सिक्के को पर्स में रखते हो ।       Bitcoin सिर्फ कम्यूटर  नेटवर्किंग  से बने  एक  डिजिटल वॉलेट में रखे जा सकते हैं जिसमे बिटकॉइन मूल्यों के रूप में रखे जाते हैं जब बिटकॉइन को किसी दूसरे के पास भेजा जाता है तो भेजने जाने वाले व्यक्ति की अन्य जानकारी कोई चुरा नहीं पाता क्योंकि यह peer to peer ट्रांसेक्शन होता है हर लेन देन में एक नए ब्लॉक का निर्माण होता है जो पूरे कंप्यूटर नेटवर्क से जुड़े रहते है।  बिटकॉइन का कोई एक मालिक नहीं है।यानी किसी एक व्यक्ति का स्वामित्व नहीं है। बिटकॉइन को कंट्रोल करने के लिए कोई सेंट्रलाइज अथॉरिटी नहीं है। कई अर्थ शास्त्रियों ने त

SLR का फुल फॉर्म क्या है

SLR का फुल फॉर्म क्या होता है ,SLR का क्या अर्थ है?

SLR -- 
ये एक विशेष प्रकार की बंदूक होती है जिसमे हर बार फायर के बाद गोली नही भरनी पड़ती बल्कि इसमें एक गोली चलाने के तुरंत बाद दूसरी गोली ऑटोमैटिक नली में लीड हो जाती है, इन राइफल में कलाश्निकोव या AK-47 राइफल, और M-18 जैसी बंदूके आती हैं।

 SLR---

 SLR का full form है statutary liquidity ratio। हिंदी में इसे संविधिक तरलता अनुपात कहते हैं  संविधिक तरलता अनुपात एक बैंकिंग शब्दावली है और रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा   निर्देश किया जाता है देश के सभी अधीनस्थ बैंक के लिए अपने खातेदारों  के जमा  की गई   रकम या अन्य माध्यमों से प्राप्त निधि को केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा निर्मित प्रतिभूति पत्रों को खरीदने और सोना में निवेश करने साथ मे नोटों के रूप में  अपने बैंक के पास जमा रखनी होती है , संविधिक तरलता अनुपात में CRR से थोड़ा अंतर होता है उसमें भी तरलता बनाये रखने के लिए कोष में नोट रखने पड़ते है वहीं SLR में जो बांड केंद्र या राज्य से खरीदे जाते हैं उनमें उस बैंक को ब्याज भी मिलता है । SLR को ऐसे समझते है यदि आपने 100 रुपये बैंक में जमा किये तो यदि SLR इस समय 20% निर्धारित है तो 20 रुपये के बांड ख़रीद कर रखने होंगे । SLR शून्य से 40 प्रतिशत तक हो सकता है।
   तरलता-- तरलता यानी  वो धन जिससे तुरंत कोई भी चीज खरीदी जा सके ,जैसे नोट सबसे अधिक तरलता लिए होते हैं , जबकि उसके बाद बॉन्ड ,प्रतिभूति पत्र की  तरलता कम होती है क्योंकि  बांड को बदल कर शीघ्रता से कोई वस्तु नही खरीद सकते हैं
 SLR कैमरा---
इस प्रकार के कैमरा में सिंगल लेंस रिफ्लेक्ट (SLR)
कैमरा होता है जो इमेज लेने के लिए एक बार क्लिक किया जाता था। ये पुराने किस्म के कैमरा हैं ,एडवांस कैमरा में DSLR कैमरा है इसका मतलब डिजिटल सिंगल लेंस रिफ्लेक्ट है ,DSLR कैमरा में इमेज को खींचने के बाद डिजिटल फॉर्म में तुरंत देख सकते हैं कि फोटो कैसी आई है ,खराब होने पर तुरंत फिर से फ़ोटो खींच सकते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

Gupt kaal ki samajik arthik vyavastha,, गुप्त काल की सामाजिक आर्थिक व्यवस्था

नव पाषाण काल का इतिहास Neolithic age-nav pashan kaal

Tamra pashan kaal ताम्र पाषाण युग The Chalcolithic Age